bjp
bjp

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर शुक्रवार को 70 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की। मुख्यमंत्री विजय रुपाणी, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जीतू वाघाणी सहित राज्य के 15 मंत्रियों तथा वरिष्ठ नेताओं को इस सूची में जगह दी गई है। इसमें पहले चरण के 45 और दूसरे चरण के 25 उम्मीदवारों के नाम घोषित किए गए हैं।

राज्य में पहले चरण में 9 दिसम्बर को 89 सीटों पर चुनाव होने हैं। पार्टी ने अब तक की नो रिपीट थ्योरी से हटकर ‘रिपीट थ्योरी’ अपनाते हुए 49 वर्तमान विधायकों को उतारा है। 16 नए चेहरे को भी टिकट दिया है। महिला विधायक वर्षाबेन दोशी (वढवाण) का पत्ता काटा है। इस सूची में चार महिलाएं शामिल हैं।

साथ ही, कांग्रेस के कथित पोडा’ (पटेल, ओबीसी, दलित, आदिवासी) समीकरण को ध्यान में रख 15 पाटीदार व 25 ओबीसी उम्मीदवारों पर भरोसा जताया। कांग्रेस भी इस पर काम कर रही है। भाजपा की पहली सूची में पाटीदारों और ओबीसी का खासा वर्चस्व दिखा।

माना जा सकता है कि पहली सूची में शामिल 15 पाटीदारों को टिकट मिलना करीब ढाई वर्षों से आरक्षण की मांग को लेकर नाराज बताए जा रहे पाटीदार समुदाय को रिझाने का बड़ा प्रयास है। वहीं, अल्पेश ठाकोर के नेतृत्व में ओबीसी समाज भी पिछले कुछ समय से आंदोलनरत था। इस आंदोलन का भी असर भाजपा की पहली सूची में दिखता है।

मुस्लिम एक भी नहीं
15 पाटीदार, 25 ओबीसी, 4 एससी, 11 एसटी, 7 क्षत्रिय, 2 जैन, 2 ब्राह्मण, 1-1 मराठी, अनाविल व लुहाणा। उधर, पार्टी ने ऐसे ५ लोगों को इनाम के तौर पर टिकट दिया है जो कांग्रेस से पाला बदलकर भाजपा में आए थे। कांग्रेस के इन पांच बागी उम्मीदवारों में राघवजी पटेल, धर्मेंद्र सिंह जाडेजा, सी.के. राउलजी, रामसिंह परमार और मानसिंह चौहाण शामिल हैं। इन सभी ने राज्यसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी को वोट दिया था।

LEAVE A REPLY