अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ जिम मैटिस

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा सीरिया में लड़ाई खत्म करने के ऐलान के बाद उनके प्रशासन में हलचल मच गई है. रक्षा मंत्री जिम मैटिस ने अपना इस्तीफा दे दिया है. राष्ट्रपति ट्रंप को लिखी चिट्ठी में उन्होंने कहा कि आपके पास ये च्वॉइस है कि आप उस रक्षा मंत्री को रखें, जिसके विचार आपसे मिलते हों. इसलिए मैं अपने पद से इस्तीफा देता हूं. डोनाल्ड ट्रंप ने भी ट्वीट कर इस बात की पुष्टि की.

डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया कि जनरल जिम मैटिस अच्छे अंकों के साथ रिटायर हो रहे हैं. उनका कार्यकाल आने वाली फरवरी में खत्म होगा, पिछले दो साल उन्होंने मेरे साथ काफी अच्छा काम किया. नए रक्षा मंत्री के नाम का जल्द ही ऐलान किया जाएगा.

बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप ने एक दिन पहले ही सीरिया में ISIS पर जीत का दावा किया है. उन्होंने सीरिया में मौजूद अपने 2000 सैनिकों को वापस बुलाने का आदेश दिया है. अमेरिकी मीडिया के मुताबिक, जिम मैटिस ने इसी फैसले से नाराज होकर अपना इस्तीफा सौंपा है.

सिर्फ इतना ही नहीं अमेरिका ने अब अफगानिस्तान से भी सेना को वापस बुलाने का फैसला किया है. अमेरिका अफगानिस्तान से 14000 सैनिक वापस बुलाने पर विचार कर रहा है.

गौरतलब है कि अमेरिका में पिछले कुछ समय में बड़े पदों पर मौजूद लोगों ने इस्तीफा दिया है. कई अधिकारी अमेरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फैसलों से नाखुश थे. अमेरिकी मीडिया की मानें तो इससे पहले भी कई बार ऐसा हुआ है कि जब ट्रंप और मैटिस की एक- दूसरे से नहीं बनी है और राष्ट्रपति ने अपने रक्षा मंत्री की सलाह को नजरअंदाज किया है.

बता दें कि रक्षा मंत्री जिम मैटिस सीरिया में अमेरिकी फौज के रुके रहने के पक्षधर थे. मैटिस ने सीरिया से फौज हटाने के फैसले को एक ब्लंडर बताया था. मैटिस ने रक्षा मंत्री पद पर रहते हुए मैक्सिको में बड़ी संख्या में फौज के तैनात होने का आदेश दिया था. पाकिस्तान को समय-समय पर फटकार लगाने का श्रेय में जिम मैटिस को ही जाता है.

News and Media Source – AajTak

LEAVE A REPLY