कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर मामले में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के हमलों के बीच कांग्रेस पार्टी बुधवार को संसद में राफेल मामले पर बहस के लिए राजी हो गई है. केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कांग्रेस को चुनौती दी थी कि पार्टी राफेल पर बहस करे तो वे झूठ को बेनकाब कर देंगे. जेटली की इस चुनौती को स्वीकार करते हुए लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि जेटली जी ने चुनौती दी है, हम 2 जनवरी यानी बुधवार को बहस के लिए तैयार हैं. आप समय तय कर लीजिए.

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने यह टिप्पणी सोमवार को लोकसभा में वित्त वर्ष 2018-19 के लिए अनुपूरक अनुदान मांगों की दूसरी खेप में 85,948.86 करोड़ रुपये के सकल अतिरिक्त व्यय को मंजूरी मिलने के बाद की. दोपहर 2 बजे जब सदन में इस मामले में चर्चा होनी थी तब खड़गे ने राफेल मामले में संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) के गठन की मांग दोहराई. जिसके जवाब में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि आप चर्चा शुरू कीजिए सरकार जवाब देने के लिए तैयार है. जेटली ने कहा कि वे साबित कर देंगे कि राफेल मामले में कांग्रेस झूठ फैला रही है. इस पर खड़गे ने कहा कि जेटली जी ने चुनौती दी है. हम 2 जनवरी यानी बुधवार को बहस के लिए तैयार हैं,  समय तय कर लीजिए.

इसके बाद खड़गे ने लोकसभा की स्पीकर सुमित्रा महाजन को याद दिलाया और बहस के लिए समय की मांग की. इसके जवाब में महाजन ने कहा कि वे समय पर निर्णय लेंगी लेकिन खड़गे फौरन दिन और समय प्राप्त नहीं कर सकते. खड़गे से नाराज होकर स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा, ‘आप अपनी चुनौती अपने पास रखिए. मुझे चुनौती मत दीजिए.’

इससे पहले दिन में कांग्रेस ने राफेल डील में कथित घोटाले का मामला लोकसभा में उठाया, जिस पर सत्ता पक्ष की तरफ से तीखी प्रतिक्रिया आई कि विपक्ष को इस मुद्दे पर बहस से भागना नहीं चाहिए. बता दें कि कांग्रेस सांसद शीतकालीन सत्र की शुरूआत से ही राफेल मामले की जांच जेपीसी से कराने की मांग कर रहे हैं. शून्य काल के दौरान पार्टी के संसद सदस्य वेल में हाथों में प्लेकार्ड लिए हुए घुस गए और नारे लगाने लगे.

मामले को उठाते हुए मल्लिकार्जुन खड़गे ने आरोप लगाया कि इस डील में घोटाला हुआ है और सरकार से पूछा कि विमान की कीमत क्यों नहीं बताई जा रही. उन्होंने जेपीसी जांच की भी मांग की इस बीच बीजेपी की तरफ से भी शोर शराबा होता रहा. खड़गे के जवाब में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि झूठ को बार बार दोहराने से वो सच नहीं बन जाता. उन्होंने कहा सरकार बहस के लिए तैयार है लेकिन विपक्ष क्यों भाग रहा है. इस दौरान लोकसभा में यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी मौजूद थीं.

News and Media Source – AajTak

LEAVE A REPLY